No icon

स्कूल फीस को लेकर अभिभावकों की परेशानी बढ़ती जा रही है

कोलकाता, नि.स.l देश में 24 मार्च 2020 से लगाये गए लॉकडाउन एवं कोरोना महामारी की वजह से हर एक व्यक्ति के रोजगार पर बुरा असर पड़ा है. वहीं दूसरी तरफ महानगर की हर एक निजी स्कूलों ने स्कूल फीस में  बढ़ोत्तरी कर दी है. वे ट्यूशन फीस के अलावा अन्य चार्जेज भी लाद कर हर एक अभिभावकों को उसका भुगतान करने के लिये जोड़ दे रहें हैं. ऐसे में शरत बोस रोड स्थित अशोक हॉल गर्ल्स हायर सेकेंड्री स्कूल ने भी सत्र 2020-21 के लिए पहली तिमाही यानी अप्रैल से जुलाई 2020 तक के लिए अपनी स्कूल फीस की डिमांड कर सभी अभिभावकों को नोटिस पहुंचा दिया है. इसके साथ प्रबंधन ने ये भी कहा है कि 10 जुलाई 2020 तक इसका भुगतान न करने पर बच्चों का नाम रजिस्टर से काट दिया जायेगा.

एक साक्षात्कार दौरान श्री देव सेन जो कि पेशे से एक म्यूजिक डायरेक्टर हैं, उन्होंने बताया कि मेरी लड़की चौथी कक्षा में पड़ती है. स्कूल की प्रिंसिपल श्रीमती सोनाली सरकार ने नोटिस भेजा है कि पहले सत्र के लिए 42,207 रुपये जमा करने होंगे. जहां 3 महीने की ट्यूशन फीस(5335 x3=16005रुपये) के अलावा हर एक अन्य चार्जेज शामिल है.

उन्होंने आगे कहा, सरकार को इस मामले में हस्तक्षेप करनी चाहिए.

मालूम हो कि राज्य के शिक्षा मंत्री श्री पार्थ चटर्जी ने सभी स्कूलों से स्कूल फीस में रियायत बरतने के लिए कहा है. फिर भी स्कूल प्रबंधन ज़िद पर अड़े हुए हैं.

Comment