No icon

BHAVNA

भावना नृत्य शिक्षा केन्द्र का चौथा वार्षिक कार्यक्रम सम्पन्न

हर एक को उसकी कला की पहचान होनी चाहिये: प्रियंका सरकार

कोलकाता, नि.स l गत रविवार को सेवड़ाफुल्ली स्थित सुरेन्द्रनाथ विद्यानिकेतन में भावना नृत्य शिक्षा केन्द्र के चौथे वार्षिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. कार्यक्रम की शुरुआत श्रेया दास की क्लासिकल संगीत से हुई. इसके बाद गणतंत्र दिवस के मद्देनजर 'जय हो' नामक एक गीत पर संस्था के विद्यार्थियों ने परफॉर्म किया. वहीं अभिनेता सौम्य मुखर्जी, श्रीमती मित्रा गुइन, बापी साधुखां, कर्णधार, भावना नृत्य शिक्षा केन्द्र, मीना साधुखां एवं अन्य को दीप प्रज्ज्वलन पर्व में देखा गया. अंत में स्वर्गीय बॉलीवुड स्टार्लेट श्रीदेवी की याद में नृत्य के ज़रिए उनको श्रद्धांजलि दी गई.

आपको बता दें, सेवड़ाफुल्ली स्थित भावना नृत्य शिक्षा केन्द्र पिछले 4 वर्षों से भरतनाट्यम, रवींद्रनृत्य, क्रियेटिव, फोक और वेस्टर्न डांस सिखाते हुए आ रहे हैं.

मौके पर संस्था के कर्णधार बापी साधुखां ने कहा,  वार्षिक कार्यक्रम के दौरान हम प्रतिवर्ष अपनी संस्था के बच्चों के अटेंडेंस एवं ली गई परीक्षा के मद्देनजर पुरस्कृत करते हैं, ताकि उनका मनोबल बढ़े.

उन्होंने आगे कहा, भावना नृत्य शिक्षा केन्द्र में हर डांस फॉर्म के लिए टीचर रखे गए हैं, जो औरों से इसे अलग करती है.
बापी ने कहा, भावना सबको लेकर चलने का नाम है, इसलिए अगर कोई फीस नहीं भी दे पाता है, तो मैं उसे मुफ्त डांस सिखाता हूं.

मौके पर वैद्यबाटी म्युनिसिपालिटी के चेयरमैन श्री अरिंदम गुइन ने कहा, हमारे यहां कई सारे नृत्य शिक्षा केन्द्र हैं, लेकिन उनमें से बापी सर्वोत्तम है. आज यहां जितने भी लोग परफॉर्म कर रहे हैं उन सबको बापी ने ही तैयार किया है. जिससे यह बिलकुल साफ हो जाता है कि बापी कितना हुनरमंद है.

"हालांकि मुझे डांस नहीं आता, लेकिन जितने भी लोग शिल्प को लेकर चर्चा करते हैं, मैं हमेशा उनको सपोर्ट करने की कोशिश करता हूं,"- मौके पर सौम्य ने भावना के वार्षिक कार्यक्रम के बारे में बातचीत करते हुए कुछ ऐसा ही कहा.

दूसरी तरफ मित्रा गुइन ने कहा, जितने भी लोग उपरोक्त कार्यक्रम को साकार किया है, उन सभी को मेरी तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं.
कार्यक्रम का लुत्फ उठा रही महुआ भट्टाचार्या, काउंसिलर ने कहा, यहां मौजूद सभी से मेरा दरख्वास्त है कि आप सभी बापी साधुखां के इस प्रयास को सपोर्ट करें.

मौके पर अभिनेत्री इंद्राणी दत्ता ने कहा, मैं बापी के साथ काफी दिनों से काम कर रही हूं. और आज मैंने उनकी संस्था का कार्यक्रम भी देखा. जिस तरह से यहां बच्चों के अभिभावकों ने परफॉर्म किया वह वाकई लाजवाब है. बापी डांस के मामले में किसी भी प्रकार की कम्प्रोमाइज नहीं करते हैं, जो उनकी सबसे बड़ी खासियत है.

वहीं मौके पर उपस्थित अभिनेत्री समता दास ने कहा, बापी अपनी बात बखूबी से पेश करते हैं. सो मुझे लगता है कि अगर कोई भी उनके पास डांस सीखने के लिए आता है, तो वे बेहतर कुछ सीख पाएंगे.

'यहां आने के बाद मैं तो बापी का फैन हो गया हूँ,' जी हां , भावना के  वार्षिक कार्यक्रम के दौरान अभिनेता प्रेमजीत ने मंच पर अपने वक्तव्य में कुछ ऐसा ही कहा.
वहीं अभिनेता सुमन दे का कहना है कि मैं एक नॉन डांसर हूं लेकिन बापी ने मुझे आज यहां सलमान खान के कुछ गानों पर नाचने पर मजबूर कर दिया है.

आखिर में टॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री प्रियंका सरकार ने उपरोक्त कार्यक्रम को लेकर कहा कि कोई भी संस्था वार्षिक कार्यक्रम का आयोजन इसलिए करती है ताकि वे अपने छात्र-छात्रों को प्रोत्साहित कर सके. यह काफी अच्छा प्रयास भी है.

उन्होंने आगे कहा, मेरे ख्याल से संगीत, नृत्य एवं अन्य कोई भी कला हर किसी के लिए उसकी हॉबिज़ होती है. आगे चलकर वह उसकी पहचान बन जाती है. मैं समझती हूं कि हर एक को उसकी कला की पहचान होनी चाहिये.

मौके पर अभिनेत्री रितुपर्णा सेनगुप्ता के डांस इंस्टिट्यूट से जुड़े श्री प्रबीर दे ने भी एक रवींद्र नृत्य पेश किया.
इस अवसर पर कई गणमान्य लोग मौजूद थे.

Comment