No icon

CINEMA SARASWATI

बचपन की यादें ताज़ा करने हेतु मैंने सिनेमा सरस्वती की कल्पना की: शिलादित्य मौलिक

कोलकाता, नि.स। 'स्वेटर' फेम निर्देशक शीलादित्य मौलिक ने कहा कि पिछले वर्ष 24 मार्च 2020 से सरकार द्वारा लगाए गए लॉकडाउन की वजह से इंडस्ट्री से जुड़े सारे कलाकार एक दूसरे से बिछड़ गए थे. इसलिये लॉकडाउन के दौरान मैंने ये तय कर लिया था कि सभी को वापस मिलाना होगा. दूसरी तरफ कोरोना महामारी की वजह से इंडस्ट्री के लोगों में काम का अभाव भी देखा गया, ऊपर से सरस्वती मां को हम जैसे फ़िल्म इंडस्ट्री के लोग देवी मानते हैं.

दरअसल वसंत पंचमी के दिन यानी मंगलवार को निर्देशक शिलादित्य मौलिक के तत्वावधान में भारतलक्ष्मी स्टूडियो में एक कार्यक्रम 'सिनेमा सरस्वती' का आयोजन किया गया था. उसी कार्यक्रम की लॉन्चिंग के दौरान उन्होंने उपरोक्त बाते कहीं. 

मौके पर सरस्वती मां की पूजा आयोजन के साथ-साथ एक खुला मंच भी बनाया गया था ताकि इंडस्ट्री से जुड़े सारे कलाकार अपनी भूली-बिसरी सारी यादों को ताजा कर सकें, एक दूसरे से मिल सके, खुल कर अपनी मन की बात कर सकें और उसी मंच पर अपनी कला का प्रदर्शन भी कर सकें.

शिलादित्य ने आगे कहा, ऐसा भी आप कह सकते हैं कि बचपन की यादें ताज़ा करने हेतु मैंने सिनेमा सरस्वती की कल्पना की है. ख्याल ये भी आया था कि इस वजह से इंडस्ट्री की स्पिरिट भी थोड़ी बढ़ जाएगी.

शिलादित्य से जब सरस्वती पूजा से जुड़ी उनके यादगार लम्हों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, प्यार में पड़ना, पंडाल के पीछे छुपकर सिगरेट पीना, रात में दोस्तों के साथ मूर्तियों को पहरा देना इत्यादि कुछ ऐसे लम्हें हैं ,जो भुलाए नहीं भूलते.

'लॉकडाउन के दौरान सिंगर्स, म्यूजिक डायरेक्टर्स एवं अन्य लोग मेल में अपना काम मुझ तक  पहुंचाया करते थे. आज इस मंच के बहाने उन्हें एक मौका मिलेगा अपनी कला को प्रस्तुत करने का. इस बहाने उन सबकी मुलाक़ात फ़िल्म इंडस्ट्री से जुड़े लोगों के साथ हो जाएगी. क्या पता किसी को कोई काम वगैरह मिल जाए, जी हां, शिलादित्य से जब सिनेमा सरस्वती के मंच के बारे में पूछा गया तो उसके जवाब में उन्होंने कुछ ऐसा ही कहा.

वहीं निर्देशक अरिंदम शील ने कहा, फ़िल्म इंडस्ट्री से जुड़े सभी कलाकार सरस्वती मां की आराधना करते हैं, यह एक पारंपरिक विषय है. इस दौरान लोगों का आपसी मिलाप एक नॉस्टैल्जिक विषय को उजागर करती है.

इस अवसर पर अभिनेत्री सायनी घोष, प्रियंका सरकार, सायंतनी गुहा ठाकुरता, अनिंदिता सरकार, अभिषेक बासु-म्यूजिक डायरेक्टर, अरित्र दास-फ़िल्म प्रोड्यूसर, देबश्री दत्ता सहित कई लोग मौजूद थे.

Comment