No icon

ZUMBA

स्ट्रेस लेवल जीरो करने के लिए जुम्बा बेहद ज़रूरी:नम्रता शाह

कोलकाता l आजकल अधिकतर लोग टेंशन से घिरे रहते हैं.जब कोई दवा काम नही करती है तो  लोग तरह तरह के नुस्खे खोजते रहते हैं. और ऐसे में जुम्बा फिटनेस रूटीन काफी कारगर सिद्ध हो रहा है. कुछ ऐसा ही कहना है महानगर के उभरते हुए जुम्बा फिटनेस ट्रेनर नम्रता शाह का.जुम्बा फिटनेस रूटीन एक किस्म का एरोबिक्स डांस है। यह लैटिन अमेरीकन धुन पर बना है। जो आपको फिट रहने में मदद करता है। इसका नाम सुनने में जितना कठिन है, उतना ही यह करने में सरल है। जुम्बा दूसरे फिटनेस रूटीन की तरह ही बहुत ही सिंपल है। बेली डांस के बाद पूरी दुनिया में बहुत से लोग जुम्बा के भी मुरीद बन गए हैं। यह फिटनेस रूटीन अगर अच्छी तरह से किया जाए, तो यह एक घंटे में  600 से 800 कैलोरीज तक बर्न करता है। दूसरे वर्कआउट रूटीन की तरह यह आपका ब्लड प्रेशर सही करता है और बोन डेंसिटी बढ़ाता है। साल्सा करने से वजन बहुत जल्दी कम होता है, क्योंकि इसे करने में बहुत ताकत की जरूरत पड़ती है। जिसमें ज्यादा कैलोरीज बर्न होती है। ठीक उसी प्रकार जुम्बा आपके शरीर के हर हिस्से पर असर डालता है। आपकी बॉडी को बैलेंस देने के साथ ही यह आपको परफेक्ट बॉडी देता है।
डांस एक ऐसा तरीका है, जिससे सिर्फ वजन ही नहीं कम होता है बल्कि डांस करने से खुशी भी मिलती है। पाचन तंत्र भी स्वस्थ रहता है। जुम्बा फिटनेस रूटीन आपके शरीर को संतुलित, कॉन्फिडेंट और फ्लेक्सिबल बनाता है। डांस आपके शरीर के हर एक हिस्से के सॉफ्ट मूवमेंट में आपकी मदद करता है और आपके कंधे, हृदय और कूल्हों को दुरुस्त रखता है। यह फिटनेस रूटीन आपकी सबसे ज्यादा कैलोरीज बर्न करता है।

हाल ही में नम्रता से मेरी एक खास मुलाक़ात हुई. तो लीजिये पेश है उनसे की गई बातचीत के मुख्य अंश-

1.किस तरह से आपने जुम्बा फिटनेस ट्रेनर बनने तक का सफर तय किया?
-यह 2010 की बात है, जब जुम्बा फिटनेस रूटीन भारतवर्ष में नया-नया आया था. और तब इस डांस कार्यक्रम का प्रसारण ज़ूम टीवी पर होता था. जब मैंने इसे टीवी पर पहली बार देखा तो मन मे एक इच्छा जगी कि इसे सीखना है. आगे चलकर 2014 में बतौर स्टूडेंट मैने जुम्बा क्लासेस ज्वॉइन कर लिया. लेकिन ज्वाईन करने के बाद मुझे पता चला कि यहां लाइसेंस्ड ट्रेनिंग नही दी जाती है. लाइसेंस लेने के लिए आपको यूएस जाना होता है. इत्तेफाक से यहां 2017 में लाइसेंस्ड ट्रेनिंग शुरू हुआ और फिर मैने इसके लिए अप्लाई कर दिया और आज मैं एक ट्रेंड जुम्बा फिटनेस ट्रेनर बन गई हूं. 

2. जुम्बा जुम्बा फिटनेस रूटीन क्या है ?
-जुम्बा एक ऐसा फिटनेस रूटीन फॉर्म है जो विश्व के सारे छन्दों को लेकर बनता है. लेकिन इसको सइंटिफिकेल्ली बनाया गया है, जिस वजह से इसे करने पर पूरे बॉडी पार्ट्स का एक्सरसाइज़ होता है.

3.इसके क्या-क्या फायदे हैं ?

-इससे आपका फैट और वेट लॉस होता है.बॉडी टोंड होने के साथ- साथ मांसपेशिया मज़बूत होती हैं. और सबसे अहम बात इससे आपका स्ट्रैस लेवल जीरो हो सकता है. क्योंकि जुम्बा फिटनेस रूटीन करने से आपके बॉडी से टॉक्सिन्स रिलीज़ होते हैं.

4.जुम्बा फिटनेस रूटीन के भाग हैं ?

-स्ट्रांग बाई जुम्बा,यह एक हाई इंटेंसिटी इंटरवल ट्रेनिंग है. इसमें मार्शल आर्ट, किक बॉक्सिंग और कंपलीट एक्सरसाइज फ़ॉर्मेट शामिल होता है. इसके अलावा टोनिंग और एक्वा भी जुम्बा फिटनेस रूटीन के दो अलग-अलग भाग हैं.

5.जुम्बा फिटनेस रूटीन हफ्ते में कितनी बार किया जा सकता है ?

-इसे हफ्ते में 3 दिन किया जा सकता है.

6.क्या आपका खुद का कोई ट्रेनिंग सेंटर है ?

- मैं बालीगंज और रासबिहारी स्थित जुम्बा फिटनेस सेंटर में बतौर इंस्ट्रक्टर की हैसियत से जुड़ी हुई हूं.

7.अब तक आपने कितने लोगों को फायदा पहुंचाया है ?

-हमारे यहां वर्किंग लेडीज के लिए रात 8 बजे का बैच रखा गया है. महज़ 8 से 12 क्लासेस के अंदर सभी का वजन 2 से 5 किलों घटाने में हम कामयाब होते हैं.

8.जुम्बा जुम्बा फिटनेस रूटीन क्लासेस ज्वाईन करने के लिए महीने का कितना खर्चा आ सकता है ?
-1500 से 2000 रुपये तक का खर्चा आ सकता है.

9.क्या आप अपनी तरफ से आम लोगों को कोई संदेश देना चाहतीं हैं ?

-जी हां,यहाँ लड़के भी बिना शरमाये ज्वाईन कर सकते हैं.

Comment