No icon

ईजेडसीसीसीओएन का आयोजन

कोलकाता,नि.सं l इंडियन सोसाइटी ऑफ क्रिटिकल केयर मेडिसिन(आईएससीसीएम)की स्थापना 1983 को मुम्बई हुई थी. यह एक नॉन प्रॉफिट ऑर्गनाइजेशन है जिसमें भारतीय फिजिशियन,नर्सेज, फ़िज़ियोथेरेपिस्ट एवं अन्य मेडिकल प्रफेशनल्स शामिल है. यह संस्था गंभीर रुप से बीमार मरीज़ों की सेवा में जुटी हुई है. हाल ही में संस्था की ओर से बदल रहे चिकित्सा व्यवस्था एवं क्रिटिकल केयर से जुड़ी अन्वेषण को लेकर प्रति वर्ष एनुअल कॉन्टिनयुइंग मेडिकल प्रोग्राम का आयोजन किया जाता है. इस वर्ष  संस्था की ओर से ईस्टर्न जोन क्रिटिकल केयर कांफेरेंस (ईजेडसीसीसीओएन) किया गया था. जिसमें एक दिन का वर्कशॉप भी शामिल था.

उक्त कार्यक्रम के दौरान डॉ.सौरव कोले, प्रेजिडेंट, आईएससीसीएम ने कहा, क्रिटिकल केयर का एक ही मकसद है क्रिटिकल केयर प्रोफेशनल्स की समस्याओं को दूर करना ताकि गंभीर रुप से बीमार मरीज़ों की चिकित्सा और भी बढ़िया तरीके से किया जा सके. 

उन्होंने आगे कहा, हमारा इस वर्ष का थीम है क्रिटिकल केयर एट द रेट 360 डिग्री. इसमें हेल्थ केयर प्रोवाइडर्स की संख्या को बढ़ाना भी शामिल है.

वही मौके पर डॉ. सुरेन पांजा, सेक्रेटरी,आईएससीसीएम ने कहा,आजकल क्रिटिकल केयर से जुड़े प्रोफेशनल्स को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. हमे लगता है कि हमें इस दिशा में और भी काम करने होंगे. हमे मरीज़ों को और भी बढ़िया एवं उचित मूल्य में क्रिटिकल केयर सर्विस मुहैया करवाने होंगे.

इस अवसर पर स्वामी सत्येशानंद ,असिस्टेन्ट जनरल सेक्रेटरी, रामकृष्ण मिशन एवं रामकृष्ण मठ, डॉ.देवी सिंह साइनी सहित कई लोग मौजूद थे.

Comment