No icon

दोस्ती की खातिर

कोलकाता। दोस्ती का रिश्ता ऐसा होता है जो हर रिश्ते की कमी को पूरा करने का दम रखता है. लेकिन एक दोस्त से बिछड़ जाने के बाद जब उसकी यादें लौट कर आती हैं, तो कोई भी रिश्ता उसकी कमी पूरी नहीं कर सकता. कुछ ऐसी ही यादें लेकर गत मंगलवार को केंद्रीय विद्यालय बैरकपुर, आर्मी के पूर्व छात्र-छात्राओं ने अपने खोए हुए दोस्तों की खातिर स्कूल परिसर में ही गरीबों में राशन सामग्री बांटने का काम पूरा किया. दरअसल यहां उन खोए हुए छात्र-छात्राओं के बारे में बात की जा रही है जो इस दुनिया से रुखसत हो चुके हैं. 

किसी ने सच ही कहा है जान से प्यारे दोस्त जब जिंदगी के किसी मोड़ पर बिछड़ जाते हैं , दिल खामोश, आंखें नम हो जाती हैं, वो जब भी याद आते हैं.

मौके पर उपस्थित स्कूल के प्रिंसिपल श्री चन्द्र शेखर बिष्ट ने कहा कि आज स्कूल के पूर्व छात्र-छात्राओं ने अपने खोए हुए दोस्तों की याद में जो काम किया है वह वाकई काबिले तारीफ है. ऐसा कार्य लोग वर्षों तक याद रखेंगे. 

इस अवसर पर श्री नकुल पंडित महातो,पीजीटी-मैथेमेटिक्स, श्री राजकुमार तिवारी, लीगल ऑफिसर सहित कई गणमान्य लोग मौजूद थे.

Comment