No icon

कोरोना महामारी के चरित्र को समझना मुश्किल : डॉ. ओम प्रकाश संजय

बैरकपुर स्थित 85 डी, घोषपाड़ा रोड के सुप्रसिद्ध डॉक्टर ओम प्रकाश संजय, एमबीबीएस(कोलकाता),डिप. कार्ड.पीजीसी इन कार्डियोलॉजी, क्लीनिकल डायबिटीज, र्ह्यूमैटोलोजी, पीडियाट्रिक्स, जेरियाट्रिक्स ने हाल ही में कोरोना महामारी को लेकर हमारे संवाददाता सप्तर्षि विश्वास से एक खास बातचीत की. तो लीजिये पेश है उनसे की गई बातचीत के मुख्य अंश-


1.कोरोना को लेकर आपके क्या विचार हैं ?

-कोरोना एक ऐसी महामारी है जिसके चरित्र को अब तक ठीक से समझा नहीं जा सका.

2.कोरोना रोगियों को आप अपनी तरफ से क्या सुझाव देना चाहेंगे ?

-प्रिवेंशन इज़ नॉट ऑनली ऑलवेज बेटर, बट लेस एक्सपेंसिव एंड लेस बादरिंग टू. बचना केवल सस्ता ही नहीं, ये कम खर्चीला और कम परेशानी युक्त होती है. मसलन के तौर पर फोम से बने मास्क का व्यवहार जरूर करें जिसमें कोई भी खिड़की न हो. बाज़ार से कोई भी सैनीटाइजर खरीदने से पहले ये ज़रूर देख लीजियेगा कि उसमें 70 प्रतिशत अल्कोहल हो.कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए हर एक उपाय कीजिये.

3.कोरोना काल में एक डॉक्टर होने के नाते आपको किन-किन तकलीफों का सामना करना पड़ रहा है?

-डॉक्टर्स तथा पैरामेडिकल वर्कर्स एलओसी पर खड़े हैं. यानी वे युद्ध क्षेत्र में हैं. कब गोली लग जाये क्या पता. उम्मीद करता हूँ कि ईश्वर हम सब की रक्षा करें.

Comment