No icon

रिताभरी ने सहायता क्लिनिक का किया उद्घाटन

कोलकाता, नि.स l आज साल्टलेक के सेक्टर-1 में सहायता क्लिनिक का उद्घाटन मशहूर टॉलीवुड अभिनेत्री रिताभरी चक्रवर्ती के हाथों हुआ. दरअसल सहायता क्लिनिक वर्चुअल रियलिटी बेस्ड थेरेपी यानी आभासी दुनिया के माध्यम से आपको आपके मानसिक बीमारी से निजात दिलाने में मदद करेगा.

वर्चुअल वर्ल्ड मूलतः ऑनलाइन समुदाय की एक शैली है जो एक बेहतरीन कंप्यूटर आधारित काल्पनिक वातावरण उपलब्ध कराती है। इस काल्पनिक वातावरण में ऑनलाइन समुदाय के समस्त लोग आपस में एक दूसरे से सिर्फ संपर्क ही नहीं कर सकते, बल्कि एक जादूगर की तरह कहीं भी पलक झपकते ही पहुँच सकते हैं, और वस्तुएँ प्रकट और गायब कर सकते हैं।

मौके पर संस्था के फाउंडर-डायरेक्टर डॉ. तथागत चटर्जी हैं ने कहा, साइकियाट्री में हम इंसानों की कई तरह के फोबियाज़ को अड्रेस करते हैं. वो हाइट को लेकर हो सकता है, जगह हो सकती है इत्यादि. इसमें मरीज़ों को हम ये सोचने के लिए कहते हैं कि आपको जिस चीज़ का डर है, उस वजह से आपको क्या दिक्कतें हो सकती हैं. इसे हम सिस्टेमेटिक डीसेंसीटाइज़ेशन कहते हैं.लेकिन इस वर्चुअल रियलिटी बेस्ड थेरेपी में हम उनको सोचने के लिए कुछ भी नहीं कहते हैं बल्कि हम वीआर सेट के ज़रिए उनको वही दिखाते हैं, जिस डर को वो अपने जेहन से निकाल नहीं पातें हैं. इससे उनकी एंग्जायटी टॉलरेंस रेट बढ़ जाती है.

उन्होंने आगे कहा, इस थेरेपी में 70 प्रितश्त सक्सेस रेट पाई गई है. और अगर इसके ट्रीटमेंट कॉस्ट की बात करें तो पर सिटिंग के लिए 2000 रुपये फीस रखी गई है.

वहीं मौके पर रिताभरी ने कहा, कोई भी मेन्टल प्रॉबलम्स का शिकार हो सकता है, और ऐसे में लोगों को सीधे डॉक्टर के पास ही जाना चाहिए. 

क्या आपने अपनी ज़िंदगी मे कभी मेन्टल प्रॉबलम्स को फेस किया है पूछने पर रिताभरी ने कहा, मैं एक परफेक्शनिस्ट हूं. मैं समझती हूं, किस काम को पहले तवज़्ज़ो दिया जाना चाहिए. इसलिए मुझे कभी ऐसी दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ा.

आपको बता दें, रिताभरी की आनेवाली फिल्मों में एफआईआर खास है. आगामी मार्च महीने में वे एक और बांग्ला फ़िल्म माया-मृगया की शूटिंग शुरू करेंगी. फिलहाल वे 16 जनवरी को गोआ के लिए रवाना होंगी क्योंकि वहां आयोजित होने वाला 51वां अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में उनकी बांग्ला एक फ़िल्म ब्रह्मा जानेन गोपन कम्मोटि का स्क्रीनिंग होने जा रहा है.

इस अवसर पर डॉ.देबाशीष सान्याल, डॉ. सैय्यद नैयर अली, डॉ. अनिर्बान रे सहित कई गणमान्य लोग मौजूद थे.

Comment