No icon

अगर आपका बच्चा 3 हफ़्तों से सोया नहीं है,तो जल्द कराएं एमआरआई: डॉ. प्रमोद एस चिंदर

कोलकाता, नि.स l एचसीजी ईको कैंसर सेंटर,कोलकाता ने ऑर्थो-ऑनकोलॉजी सेवाओं को शुरु करने की घोषणा की है. आज यहां आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान डॉ. वीरेन्द्र कुमार,सीईओ,एचसीजी इको कैंसर सेंटर,कोलकाता ने इसकी घोषणा की.

मौके पर डॉ. प्रमोद एस चिंदर, डायरेक्टर ऐंड हेड ऑफ द डिपार्टमेंट, ऑर्थोपेडिक ऑनकोलॉजी, एचसीजी कैंसर हॉस्पिटल, बेंगलुरू ने कहा, एचसीजी कैंसर अस्पताल ने भारतवर्ष में सबसे अधिक बोन ट्यूमर के रोगियों का इलाज किया है. बोन कैंसर सबसे ज़्यादा बच्चों में देखा गया है. इसके होने की कोई सटीक वजह नहीं होती है. पहले ऐसा होने की वजह से अंगों को काटने पड़ते थे, लेकिन अब ऑर्थोपेडिक ऑनकोलॉजी सेवाओं के सहारे अंगों को बचाया जा सकता है.

चिंदर ने कहा, 100 बोन ट्यूमर केसेस में 90 केसेस में खतरा नहीं के बराबर, लेकिन 10 प्रतिशत केसेस में कैंसर होने के चांसेस रहता है.

उन्होंने आगे कहा, अगर आपका बच्चा 3 हफ़्तों से सोया नहीं है, तो आप तुरंत उसका एमआरआई करा लें, हो सकता है कि उसमें बोन कैंसर के सिम्पटम्स हो. जितनी जल्दी इसको एड्रेस किया जाएगा उतनी जल्दी वे ठीक हो जाएंगे.

आपको बता दें, डॉ. प्रमोद एस चिंदर ने अब तक 6000 से भी ज़्यादा बोन कैंसर मरीज़ों का इलाज किया है.

वहीं मौके पर डॉ. एस के बाला, कंसलटेंट सर्जीकल ऑन्कोलॉजिस्ट, एचसीजी इको कैंसर सेंटर, कोलकाता ने कहा, बोन कैंसर काफी रेयर होता है और महानगर में इसका इलाज करने लायक अस्पताल नहीं के बराबर है. हमारा अस्पताल बोन कैंसर रोगियों के लिए ही आर्थोपेडिक ऑन्कोलॉजी सर्विसेज की शुरुआत की है. इसमें 70 प्रतिशत सक्सेस रेशियो पाया गया है.

इस अवसर पर सुभदीप बनर्जी, मैनेजर सेल्स ऐंड मार्केटिंग, एचसीजी ईको कैंसर सेंटर सहित कई अन्य लोग मौजूद थे.

Comment