No icon

एक प्रगतिशील सोच है इति भालोबासा

कोलकाता, (नि.स.)l एक लड़की कभी भी ये नहीं चाहती है कि कोई उसकी आबरू या अस्मत कोई लूट लें. इसी मुद्दे को लेकर बांग्ला फ़िल्म इति भालोबासा को बनाई गई है. गत शुक्रवार को महानगर में इस फ़िल्म का स्क्रीनिंग हुआ. इस फ़िल्म में अभिराज और देवलीना मुख्य भूमिका में हैं. वहीं अन्य भूमिका में बोधिसत्व मजूमदार, सतरूपा सेनगुप्ता और ईशान हैं. फ़िल्म के निर्देशक सुमित दास हैं. फ़िल्म को आर्ट्ज़ प्रोडक्शन के बैनर तले बनाया गया है.

शौनक (अभिराज) और इंद्राणी (देवलीना) दोनों प्यार में हैं.  दोनों के रिश्ते को लेकर उनकी शादी की बातचीत चल ही रही थी कि एकदिन इंद्राणी का बलात्कार हो जाता है. आखिरकार उन दोनों की शादी टूट जाती है. अब आगे चलकर इंद्राणी क्या करती है, इसे जानने के लिए आपको इति भालोबासा देखनी होगी.

फ़िल्म समसामयिक है. एक प्रगतिशील सोच को लेकर फ़िल्म की कहानी को बुना गया है. फ़िल्म आपको अवश्य देखनी चाहिए. शायद आपके सोचने का अंदाज़ ही बदल जाए.

Comment